बहल कस्बा शिक्षा नगरी के नाम से भी जाना जाता है। परन्तु जिला मुख्यालय से 56 किलोमीटर दूर दिल्ली बीकानेर मार्ग पर स्थित बहल कस्बे में राजकीय महाविद्यालय की कमी थी । कस्बे के लोग काफ़ी समय से राजकीय महाविद्यालय की मांग कर रहे थे । जिसके तहत सरकार ने सन 2013 में, कला संकाय एवं वाणिज्य संकाय के साथ, राजकीय महिला महाविद्यालय की नींव रखी । जिस उद्देश्य के लिए महाविद्यालय की स्थापना की गई वह अपने लक्ष्य को पूरा करने में सक्षम रहा । महाविद्यालय में बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाता है । महाविद्यालय कि छात्राएं न केवल शिक्षा के क्षेत्र में अपितु खेल कूद इत्यादि में भी आगे रहती हैं ।योगा के क्षेत्र में महाविद्यालय कि छात्राओं ने न केवल विश्वविद्यालय में अपितु राष्ट्रीय स्तर पर अपनी एक अलग पहचान बनाई है ।